CDO Kaise Bane:बनने के लिए योग्यताए, परीक्षा की तैयारी के विषय में भी चर्चा|

Telegram Group Join Now

कई युवा सरकारी नौकरी करना चाहते है और उसमे ही अपना भविष्य बनाना चाहते है, लेकिन जानकारी के आभाव में वह सफल नहीं हो पाते है| यह जानकारी आपके लिए है, आज हम राज्य स्तर के अधिकारी के रूप में सीडीओ रैंक के विषय में बात करेगे | यदि आपको लगता है कि आईएएस परीक्षा आपके लिए बेहद ही मुश्किल है तो राज्य सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से Chief Development Officer In Hindi (CDO) में अधिकारी बनने के लिए प्रयास कर सकते है |

इस लेख के माध्यम दोस्तों, आज हम CDO Kaise Bane ,उनके कार्य, वेतन, योग्यता, भर्ती प्रक्रिया आदि सभी के बारे में विस्तार से बात करेंगे

👉 कृपया सीडीओ बनने से सम्बंधित लेख को पूरा पढ़े व अपना कीमती सुझाव आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से दे सकते है,

  • CDO की फुल फॉर्म होती है Chief Development Officer जिसमें

C: Chief

D: Development

O: Officer

  • सीडीओ (CDO) जिसे हिंदी में मुख्य विकास अधिकारी कहते हैं, जिस प्रकार ग्राम पंचायत स्तर पर और ब्लॉक स्तर पर विकास का कार्य करते हैं, उसी प्रकार सीडीओ जिले स्तर पर विकास से संबंधित कार्य करते हैं।
  • जिस प्रकार ग्राम पंचायत स्तर पर और ब्लॉक स्तर पर विकास का कार्य करते हैं, उसी प्रकार सीडीओ जिले स्तर पर विकास से संबंधित कार्य करते हैं।
  • बीडीओ CDO (सीडीओ) के नीचे कार्य करते हैं। सीडीओ जिले के अंतर्गत आने वाले सभी ब्लॉक और ग्रामीण क्षेत्रों का एक सीनियर अधिकारी होता है, जो राज्य और केंद्र सरकार द्वारा आयोजित की गई योजनाओं को शहर और ग्रामीण इलाकों में लागू करने के निर्देश देता है और उसकी समय समय पर जांच भी करता है।
  • अगर किसी योजना में किसी तरह की कोई बाधा आ रही है तो सरकार से सीधे बात करने के लिए जिम्मेदार भी होता है। सीडीओ अपने नीचे कार्य कर रहे अधिकारियों के कामों और क्षेत्र में चल रहे बाकी निर्माण कार्यों पर नज़र रखता है। कहीं पर किसी तरह की कोई गड़बड़ी होने पर अधिकारियों को दंडित कर सकता है और उनके खिलाफ़ ऐक्शन भी ले सकता है।
  • CDO Officer की पोस्ट प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. सीडीओ ऑफिसर को सरकार द्वारा बहुत अच्छी सैलरी और बहुत सारी सुबिधाये दी जाती है|
  • यदि आप कड़ी मेहनत करके सीडीओ ऑफिसर की नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होने वाला है|
  • CDO (सीडीओ) ऑफिसर बनने के लिये आपको संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) और राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) सीडीओ ऑफिसर पोस्ट के लिए परीक्षा आयोजित करती है UPSC और SPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार देना होता है।
  • CDO बनने के लिए आपको शैक्षणिक योग्यता में स्नातक (Graduation) होना आवश्यक है, सीडीओ बनने के लिए आपका ग्रैजुएशन पास होना जरूरी होता है। इसमें चाहे आपने बीए, बीएससी, बीकॉम, बीबीए, बीटेक, बीसीए आदि में से कोई भी कोर्स कर रखा है और किसी भी विषय में किया है तो भी आप इसके लिए अप्लाइ कर सकते हैं।
  • Candidates जिन्होंने जो graduation के final year में हैं या फिर final exams दे चुकें हैं, लेकिन उनका रिजल्ट नहीं आया है| वो अप्लाई कर सकते हैं।
  • आपको बताना चाहेंगे कि सीडीओ ऑफिसर की परीक्षा के लिए आवेदक की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए.
  • केवल भारतीय नागरिक ही सीडीओ ऑफिसर की परीक्षा में भाग ले सकते हैं.
  • इसके अलावा सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए अधिकतम उम्र 40 वर्ष, एससी-एसटी के लिए अधिकतम उम्र 45 वर्ष और पीडब्ल्यूडी वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 55 वर्ष तय की गई है.
  • जनरल कैटगरी के एक कैंडिडेट के लिए आयु सीमा 21 से 40 साल के बीच में होनी चाहिए?
  • ओबीसी वालो को 3 साल की छूट दी जाती है। जिसके अनुसार ओबीसी वालो की आयु सीमा 21 से 43 साल के बीच में होनी चाहिए|
  • एससी, एसटी वालों को 5 साल की छूट दी जाती है जिसके अनुसार एससी, एसटी वालों के लिए आयु सीमा 21 से 45 साल के बीच में होने चाहिए।
  • ज्यादातर राज्यों में आयु सीमा यही रहती है, लेकिन कुछ राज्यों में कुछ ऊपर नीचे भी हो सकती है।
CDO बनने की चयन प्रक्रिया
CDO बनने की चयन प्रक्रिया- (Selection Process)
  • प्रारम्भिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार
  • प्रारंभिक परीक्षा अलग अलग राज्यों में प्रारंभिक परीक्षा का अलग अलग पैटर्न होता है। ज्यादातर राज्यों में इसके दो पेपर होते हैं, जबकि कुछ राज्य जैसे बिहार, राजस्थान में प्रारंभिक परीक्षा में केवल एक पेपर होते है|
पेपरप्रश्नअंक
General Studies150200
Civil Service Aptitude Test100200
CDO Preliminary Exam Syllabus
  • ये दोनों वहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं|
  • समय- 2 घंटा
  • 1/3 Negative Marking
  • Civil Service Aptitude Test का नंबर नही जुड़ता, पास करना अनिवार्य है| Min- 33%
  • लेकिन झारखण्ड बोर्ड में दोनों पेपर का नंबर जुड़ता है|
Syllabus of General Studies (Paper-I)
  • विज्ञान
  • पर्यावरण और परिस्थितिकी
  • सामयिकी
  • अर्थशास्त्र
  • सरकारी नीतियां और पहल
  • संस्थान
  • अंतरराष्ट्रीय सम्बंध
  • राजनीति
  • भूगोल
  • आधुनिक इतिहास
  • मध्यकालीन इतिहास
  • कला और संस्कृति
  • आजादी के बाद का इतिहास
Syllabus of Civil Service Aptitude Test (Paper-2)
  • (10th, level के) गणित (अंकगणित, बीजगणित, रेखागणित और संखियिकी)
  • अंग्रेजी
  • हिंदी
  • सामान्य बौद्धिक योग्यता
  • तार्किक और विश्लेषणात्मक क्षमता निर्णय लेने और समस्या सुलझाने की व्यापक क्षमता
प्रश्नपत्रअंक
हिंदी150 अंक
निबंध150 अंक
सामान्य अध्ययन 1200 अंक
सामान्य अध्ययन 2200 अंक
सामान्य अध्ययन 3200 अंक
सामान्य अध्ययन 4200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 1200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 2200 अंक
CDO Mains Exam Pattern
  • CDO मुख्य परीक्षा में 8 पेपर होते हैं|
  • बिहार में सामान्य अध्ययन के 2 पेपर होते हैं |
हिंदी पेपर से पूछे जाने वाले प्रश्न
  • सरकारी और अर्धसरकारी पत्र लेखन, तार लेखन, कार्यालय आदेश,
  • अधिसूचना, परिपत्र
  • शब्द ज्ञान एवं प्रयोग
  • उपसर्ग एवं प्रत्यय प्रयोग
  • विलोम शब्द
  • वाक्यांश के लिए एक शब्द
  • वर्तनी एवं वाक्य शुद्धि
  • कहावतें और मुहावरे
निबंध पेपर से पूछे जाने वाले प्रश्न
  • Essay writing 3 खंड 3 टॉपिक 700-700 शब्दों

  • साहित्य और संस्कृति
  • सामाजिक क्षेत्र
  • राजनैतिक क्षेत्र

ख और ग

  • राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय घटनाक्रम
  • प्राकृतिक आपदाएं
  • राष्ट्रीय विकास योजनाएं
  • विज्ञान, पर्यावरण, प्रद्योगिकी
  • आर्थिक क्षेत्र
  • कृषि उद्योग और व्यापार
General Studies I,2,3 पेपर से पूछे जाने वाले प्रश्न
  • भारतीय इतिहास (प्राचीन, मध्यकालीन, आधुनिक)
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और भारतीय संस्कृति
  • विश्व भूगोल, भारतीय भूगोल, प्राकृतिक संसाधन वर्तमान घटनाए
  • भारतीय कृषि
  • व्यापार और वाणिज्य भारतीय राजनीति
  • भारतीय अर्थव्यवस्था सामान्य विज्ञान
  • जीवन शैली सामाजिक रीति रिवाज

CDO Ki Salary
सीडीओ (CDO) का सैलरी

CDO (चीफ डेवलपमेंट ऑफिसर) होती है, जिसे हिंदी में मुख्य विकास अधिकारी कहते हैं, इस पद की ज़िम्मेदारी के साथ, एक आकर्षक वेतन और अन्य भत्ते प्रदान किये जाते हैं। एक CDO को पे बैंड 9300-34800 में ग्रेड पे 5400 के साथ वेतन मिलता है। CDO वेतन के साथ अन्य लाभ भी प्राप्त करता है। उन्हें अन्य सुविधाएं जैसे वाहन, घर, बिजली बिल में छूट, कार के लिए ड्राइवर और कई अन्य शामिल हैं।

  • सीडीओ जिले स्तर पर विकास से संबंधित कार्य करते हैं।
  • अगर किसी योजना में किसी तरह की कोई बाधा आ रही है तो सरकार से सीधे बात करने के लिए जिम्मेदार भी होता है। सीडीओ अपने नीचे कार्य कर रहे अधिकारियों के कामों और क्षेत्र में चल रहे बाकी निर्माण कार्यों पर नज़र रखता है। कहीं पर किसी तरह की कोई गड़बड़ी होने पर अधिकारियों को दंडित कर सकता है और उनके खिलाफ़ ऐक्शन भी ले सकता है।
  • यह लॉ और आदेश को भी सुरक्षित रखने में भूमिका निभाता है।
  • सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 40 वर्ष |
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 43 वर्ष |
  • अनुसूचित जाति और जन जाति के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 45 वर्ष |
  • दिव्यांग के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 55 वर्ष |

CDO के साक्षात्कार में अभ्यर्थी की योग्यता का आकलन किया जाता है। यदि आप साक्षात्कार में अच्छा प्रदर्शन करते है, तो आपका चयन सीडीओ ऑफिसर के पद पर कर दिया जाता है।

CDO बनने के लिए आपको शैक्षणिक योग्यता में स्नातक (Graduation) होना आवश्यक है, CDO (सीडीओ) ऑफिसर बनने के लिये आपको संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) और राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) सीडीओ ऑफिसर पोस्ट के लिए परीक्षा आयोजित करती है UPSC और SPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार देना होता है।इस लेख के माध्यम दोस्तों हमलोगों ने पढ़ा CDO Kaise Bane? उनके कार्य, वेतन, योग्यता, भर्ती प्रक्रिया आदि सभी के बारे में विस्तार से बात किया


CDO Kaise Bane? CDO Kya hota hai? CDO बनने के लिए योग्यता और सैलरी इस video में बताया गया है|

CDO Kaise Bane? CDO Kya Hota Hai?

उम्मीद करता हूँ की आपको इस लेख के जरिये CDO Kaise Bane के बारे में आपको बहुत कुछ समझ आया होगा और आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपको फिर कोई प्रश्न है तो आप बिलकुल कमेंट में हमसे पूछ सकते है या हमे कांटेक्ट भी कर सकते है। और आप सभी का धन्यवाद अपना कीमती समय हमे देने के लिए।

CDO Full Form In Police

CDO की फुल फॉर्म होती है Chief Development Officer

CDO Full Form in Hindi

सीडीओ (CDO) जिसे हिंदी में मुख्य विकास अधिकारी कहते हैं, जिस प्रकार ग्राम पंचायत स्तर पर और ब्लॉक स्तर पर विकास का कार्य करते हैं, उसी प्रकार सीडीओ जिले स्तर पर विकास से संबंधित कार्य करते हैं।

जिला विकास अधिकारी कैसे बनते हैं?

CDO बनने के लिए आपको शैक्षणिक योग्यता में स्नातक (Graduation) होना आवश्यक है, सीडीओ बनने के लिए आपका ग्रैजुएशन पास होना जरूरी होता है। इसमें चाहे आपने बीए, बीएससी, बीकॉम, बीबीए, बीटेक, बीसीए आदि में से कोई भी कोर्स कर रखा है और किसी भी विषय में किया है तो भी आप इसके लिए अप्लाइ कर सकते हैं।
Candidates जिन्होंने जो graduation के final year में हैं या फिर final exams दे चुकें हैं, लेकिन उनका रिजल्ट नहीं आया है| वो अप्लाई कर सकते हैं।

सीडीओ का क्या काम है?

जिस प्रकार ग्राम पंचायत स्तर पर और ब्लॉक स्तर पर विकास का कार्य करते हैं, उसी प्रकार सीडीओ जिले स्तर पर विकास से संबंधित कार्य करते हैं।
बीडीओ CDO (सीडीओ) के नीचे कार्य करते हैं। सीडीओ जिले के अंतर्गत आने वाले सभी ब्लॉक और ग्रामीण क्षेत्रों का एक सीनियर अधिकारी होता है, जो राज्य और केंद्र सरकार द्वारा आयोजित की गई योजनाओं को शहर और ग्रामीण इलाकों में लागू करने के निर्देश देता है और उसकी समय समय पर जांच भी करता है।
अगर किसी योजना में किसी तरह की कोई बाधा आ रही है तो सरकार से सीधे बात करने के लिए जिम्मेदार भी होता है। सीडीओ अपने नीचे कार्य कर रहे अधिकारियों के कामों और क्षेत्र में चल रहे बाकी निर्माण कार्यों पर नज़र रखता है। कहीं पर किसी तरह की कोई गड़बड़ी होने पर अधिकारियों को दंडित कर सकता है और उनके खिलाफ़ ऐक्शन भी ले सकता है।

नमस्कार दोस्तों, मैं सौरभ कुमार, एक Professional Blogger हूँ और इस ब्लॉग का Founder, Author हूँ. इस ब्लॉग पर मैं नियमित रूप से उपयोगी नईं-नईं जानकारी शेयर करता रहता हूँ।

1 thought on “CDO Kaise Bane:बनने के लिए योग्यताए, परीक्षा की तैयारी के विषय में भी चर्चा|”

Leave a Comment