एसडीएम (SDM) कैसे बने? 2024 में , मिलने वाला वेतन,परीक्षा की तैयारी के विषय में भी विस्तृत रूप से चर्चा| SDM Kaise Bane?

Telegram Group Join Now

कई युवा सरकारी नौकरी करना चाहते है और उसमे ही अपना भविष्य बनाना चाहते है, लेकिन जानकारी के आभाव में वह सफल नहीं हो पाते है | आज का समय प्रतिस्पर्धा का युग है इससे सरकारी नौकरी प्राप्त करना कठिन कार्य हो गया है | लेकिन आज हम राज्य स्तर के अधिकारी के रूप में एसडीएम रैंक के विषय में बात करेगे | यदि आपको लगता है कि आईएएस परीक्षा आपके लिए बेहद ही मुश्किल है तो राज्य सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से SDM अधिकारी बनने के लिए प्रयास कर सकते है |

इस लेख के माध्यम से आप SDM Kaise Bane 2024 me| आपको एसडीएम SDM क्या होता है ? SDM बनने के लिए क्या प्रक्रिया है | साथ में आपको SDM को मिलने वाला वेतन, परीक्षा की तैयारी के विषय में भी विस्तृत रूप से चर्चा की जायेगी|

👉 कृपया एसडीएम से सम्बंधित लेख को पूरा पढ़े व अपना कीमती सुझाव आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से दे सकते है,

SDM का पूरा नाम सब-डिविजनल मैजिस्ट्रेट है, जिसे हिंदी में उप प्रभागीय न्यायधीश या ‘सर्कल ऑफिसर’ भी कहा जाता है। एक SDM एक जिले के उप-अधिकारी के रूप में काम करता है और विभिन्न सरकारी कार्यों की जिम्मेदारियों का पालन करता है।

SDM Officer की पोस्ट प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. एसडीएम ऑफिसर को सरकार द्वारा बहुत अच्छी सैलरी दी जाती है. एसडीम ऑफिसर के लिए बहुत ही कम भर्तियां जारी होती है.

जो पूरे जिले की देखरेख करता है. एसडीएम के अनेक कार्य होते हैं जिसकी जानकारी आपको नीचे दी जाएगी. यदि आप कड़ी मेहनत करके एसडीएम की नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होने वाला है

अगर आप जानना चाहते हैं के SDM ki full form क्या होती है। तो मैं आपको बताता हूँ SDM की फुल फॉर्म होती है Sub Divisional Magistrate. जिसमें

S: Sub

D: Divisional

M: Magistrate

SDM ki full form in Hindi में होती है उप प्रभागीय न्यायाधीश।

SDM एक जिले के उप-अधिकारी के रूप में काम करता है और विभिन्न सरकारी कार्यों की जिम्मेदारियों का पालन करता है।ये आम तौर पर राजस्व प्रशासन, कानून और व्यवस्था, और सामान्य प्रशासन से संबंधित विभिन्न कार्यों को अपने अधिकार क्षेत्र में संभालते हैं।

  • SDM बनने के लिए आपको शैक्षणिक योग्यता में स्नातक (Graduation) होना आवश्यक है, आपने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की पढ़ाई पूरी की होना चाहिए।
  • Candidates जिन्होंने जो graduation के final year में हैं या फिर final exams दे चुकें हैं और उनके पास अभी रिजल्ट नहीं हैं। तो वो अप्लाई कर सकते हैं UPSC prelims परीक्षा के लिए लेकिन Mains exam में तभी बैठने दिया जाएगा जब वो mains एग्जाम के online form के साथ qualifying degree लगाएंगे।
  • आपको बताना चाहेंगे कि ग्रेजुएशन में आपके 55% अंक आने चाहिए.
  • आपको बताना चाहेंगे कि एसडीएम ऑफिसर की परीक्षा के लिए आवेदक की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए.
  • इसके अलावा सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए अधिकतम उम्र 40 वर्ष, एससी-एसटी के लिए अधिकतम उम्र 45 वर्ष और पीडब्ल्यूडी वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 55 वर्ष तय की गई है.
  • उमीदवार अगर medical field से है जैसे M.B.B.S और उसकी internship अभी कम्पलीट नहीं हुई है। और final exam हो चूका है तो ऐसे case में उसको एग्जाम में तो provisionally (प्रावधिक) रूप से बैठने दिया जाएगा अगर वह एक सर्टिफिकेट अपनी university/institute से बनबा लाए के उसने अपनी डिग्री का final exam पास कर लिया है। लेकिन इंटरव्यू के समय उसे original डिग्री दिखानी होगी।
  • केवल भारतीय नागरिक ही एसडीएम ऑफिसर की परीक्षा में भाग ले सकते हैं.

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) और राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) एसडीएम पोस्ट के लिए परीक्षा आयोजित करती है UPSC और SPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार देना होता है।

SDM बनने की चयन प्रक्रिया- (Selection Process)
  • प्रारम्भिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार
प्रश्न पत्रअंक
सामान्य ज्ञान-1200
सामान्य ज्ञान-2200
SDM Preliminary Exam Syllabus
Syllabus of General Studies-I (Paper-I)
  • Constitution
  • General Science
  • History of India
  • Indian National Movement
  • Panchyati Raj
  • Political System
  • Poverty
  • Public Policy
  • Rights Issues
  • Social Sector Initiatives
  • Sustainable Development
  • Biodiversity and Climate Change
  • Indian and World Geography
  • General Issues on Environmental Ecology
Syllabus of General Studies-II (CSAT)
  • Basic Numeracy
  • Comprehension
  • Communication Skills
  • Data Interpretation
  • General Mental Ability
  • Interpersonal Skills
  • Decision Making and Problem-solving
  • Logical Reasoning and Analytical Ability
प्रश्नपत्रअंक
हिंदी150 अंक
निबंध150 अंक
सामान्य अध्ययन 1200 अंक
सामान्य अध्ययन 2200 अंक
सामान्य अध्ययन 3200 अंक
सामान्य अध्ययन 4200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 1200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 2200 अंक
SDM Mains Exam Pattern
General Studies I (Paper-II)
  • Diversity of India
  • World History
  • Effects of Globalization on Indian Society
  • Important Geophysical Phenomena
  • Indian Culture
  • Changes in Critical Geographical Features
  • Modern Indian History
  • Post Independence Consolidation
  • Reorganization within the Country
  • Salient Features of Indian Society
  • World Physical Geography

General Studies II (Paper III)

  • Department of the Government
  • Dispute Redressal Mechanisms
  • Effect of Policies
  • Important Aspects of Governance
  • India and Its Neighborhood
  • Indian Constitution
  • Issues related to Hunger and Poverty
  • Judiciary Ministries
  • Management of the Social Sector
  • Parliament
  • Role of Civil Services in a Democracy
  • Role of NGOs
  • State Legislatures
  • Welfare Schemes
General Studies III (Paper IV)
  • Disaster Management
  • Effects of Liberalization on the Economy
  • Food Processing
  • Government Budgeting
  • Indian Economy
  • Irrigation Systems Storage
  • Land Reforms in India
  • Public Distribution System
  • Role of Media and Social Networking Sites in Internal Security
  • Science and Technology
  • Types of Irrigation

General Studies IV (Paper V)

  • Ethics
  • Integrity
  • Role of Family
  • Probity in Governance
  • Utilization of Public Funds
  • Quality of Service Delivery
  • Ethics in Public Administrative
  • Emotional Intelligence Concepts
  • Accountability and Ethical Governance
  • Strengthening of Ethical and Moral Values

Optional (Paper VI and VII)

  • Agriculture
  • Anthropology
  • Botany
  • Chemistry
  • Civil Engineering
  • Public Administration
  • Sociology
  • Economics
  • Geography
  • Geology
  • History
  • Law
  • Management
  • Mathematics
  • Statistics
  • Zoology
  • Commerce and Accountancy
  • Electrical Engineering
  • Mechanical Engineering
  • Medical Science
  • Philosophy
  • Physics
  • Psychology
  • Political Science and International Relations
  • Animal Husbandry and Veterinary Science

SDM के साक्षात्कार में अभ्यर्थी की योग्यता का आकलन किया जाता है। यदि आप साक्षात्कार में अच्छा प्रदर्शन करते है, तो आपका चयन एसडीएम के पद पर कर दिया जाता है।

  • सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 40 वर्ष |
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 45 वर्ष |
  • अनुसूचित जाति और जन जाति के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 45 वर्ष |
  • दिव्यांग के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 55 वर्ष |

SDM बनने के लिए, आपको किसी भी क्षेत्र से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए, जैसे कि आर्ट्स सब्जेक्ट, कॉमर्स सब्जेक्ट, या साइंस सब्जेक्ट। यह मात्र आपकी रुचि और चयन के अनुसार है, कोई खास विषय या विभाग नहीं है जिसे प्राथमिकता दी जाए। आपको उच्च शिक्षा में स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी।

एसडीएम बनने के लिए कई सारे विषय उपलब्ध है आप अपने रूचि के अनुसार उन विषयों का चयन कर सकते हैं:–

  • Biodiversity and Climate Change
  • Basic Numeracy
  • Comprehension
  • Constitution
  • Communication Skills
  • Compulsory Indian Language
  • Data Interpretation 
  • English
  • Essay
  • General Mental Ability
  • General Science
  • General Studies I-IV
  • History of India
  • Interpersonal Skills
  • Indian and World Geography
  • General Issues on Environmental Ecology
  • Indian National Movement
  • Decision Making and Problem-solving
  • Logical Reasoning and Analytical Ability
  • Optional I-II
  • Panchyati Raj
  • Political System
  • Poverty
  • Public Policy
  • Rights Issues
  • Social Sector Initiatives
  • Sustainable Development etc….
एसडीएम (SDM) का सैलरी

SDM (सब-डिवीजनल मैजिस्ट्रेट) का वेतन विभिन्न राज्यों और क्षेत्रों में भिन्न हो सकता है, और यह स्थानीय प्रशासन और सरकारी नीतियों पर भी निर्भर करता है। हर राज्य अपने कर्मिकों के वेतन स्तर को स्थापित करने के लिए अपने नियमों का पालन करता है। इसलिए बहुत से नौजवान SDM बनने की चाहत रखते हैं। इस पद की ज़िम्मेदारी के साथ, एक आकर्षक वेतन और अन्य भत्ते प्रदान किये जाते हैं। एक SDM को पे बैंड 9300-34800 में ग्रेड पे 5400 के साथ वेतन मिलता है। SDM वेतन के साथ अन्य लाभ भी प्राप्त करता है। उन्हें अन्य सुविधाएं जैसे वाहन, घर, बिजली बिल में छूट, कार के लिए ड्राइवर और कई अन्य शामिल हैं।

गाड़ियों का पंजीकरण, राजस्व कार्य, चुनाव आधारित कार्य, विवाह पंजीकरण, ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण और जारी करना, शस्त्र लाइसेंस का नवीनीकरण और जारी करना इत्यादि, इन सभी कार्यों में सड़कीय प्रशासन अधिकारी (एसडीएम) तहसीलदार और जिले के एसडीएम के बीच सख्त कार्यक्षेत्र में कार्य करता है। वह लॉ और आदेश को भी सुरक्षित रखने में भूमिका निभाता है।

एसडीएम बनना एक खास पद हासिल करने का सफर है जिसमें समर्पण, सहनशीलता, और रणनीतिक पहल की आवश्यकता है। इसे एक गेम में एक ऊपरी स्तर को अनलॉक करने की तरह समझा जा सकता है जहां आपको सही कौशल और ज्ञान की आवश्यकता है। इस प्रकार, आपको सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक उपकरण और रणनीतियों को जमा करना होगा।

SDM कैसे बने,SDM बनने के लिए योग्यताए ,एसडीएम बनने के लिए कौन-सा एग्जाम देना पड़ता है? और तैयारी करने के लिए सिलेबस भी बता दिया हूँ|उम्मीद करता हूँ|यह ब्लॉग आपके लिए उपयोगी साबित हो|

अपना कीमती समय देने के लिए आप सभी को धन्यबाद|

SDM kaise Bane 2024 Mein

SDM का पूरा नाम सब-डिविजनल मैजिस्ट्रेट है, जिसे हिंदी में उप प्रभागीय न्यायधीश या ‘सर्कल ऑफिसर’ भी कहा जाता है। एक SDM एक जिले के उप-अधिकारी के रूप में काम करता है और विभिन्न सरकारी कार्यों की जिम्मेदारियों का पालन करता है।
SDM Officer की पोस्ट प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. एसडीएम ऑफिसर को सरकार द्वारा बहुत अच्छी सैलरी दी जाती है. एसडीम ऑफिसर के लिए बहुत ही कम भर्तियां जारी होती है.
जो पूरे जिले की देखरेखकरता है. एसडीएम के अनेक कार्य होते हैं जिसकी जानकारी आपको नीचे दी जाएगी. यदि आप कड़ी मेहनत करके एसडीएम की नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होने वाला है

एसडीएम (SDM) का फुल फॉर्म क्या होता हैं ?

SDM ki full form क्या होती है। तो मैं आपको बताता हूँ SDM की फुल फॉर्म होती है| Sub Divisional Magistrate. जिसमें
S: Sub
D: Divisional
M: Magistrate
इसे हिंदी में उप प्रभागीय न्यायाधीश। कहते है|

PCS se SDM kaise bane

UPSC या PCS की परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार, जब उनकी प्रशिक्षण पूरी होती है और कैडर आवंटन होता है, तो राज्यों में उन्हें SDM का पद प्राप्त होता है।

SDM ke liye kitna rank chahiye

किसी राज्य PCS परीक्षा में जो उम्मीदवार अच्छे अंक प्राप्त करते हैं, उन्हें एसडीएम का पद मिलता है। सामान्यतः, टॉप 20 रैंक वाले उम्मीदवारों को एसडीएम की नौकरी मिलती है, लेकिन इसमें उस साल की खाली पदों पर भी निर्भर होता है। एसडीएम का पद राज्य प्रशासन में सबसे ऊचा माना जाता है, और इसे उप-जिला अधिकारी के रूप में भी जाना जाता है।

एसडीएम बनने के लिए कितनी उम्र चाहिए?

सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 40 वर्ष |
अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 45 वर्ष |
अनुसूचित जाति और जन जाति के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 45 वर्ष |
दिव्यांग के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 55 वर्ष |

12वीं के बाद एसडीएम कैसे बने

12th बाद SDM बनने के लिए आपको शैक्षणिक योग्यता में स्नातक (Graduation) होना आवश्यक है, आपने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की पढ़ाई पूरी की होना चाहिए।
Candidates जिन्होंने जो graduation के final year में हैं या फिर final exams दे चुकें हैं और उनके पास अभी रिजल्ट नहीं हैं। तो वो अप्लाई कर सकते हैं UPSC prelims परीक्षा के लिए लेकिन Mains exam में तभी बैठने दिया जाएगा जब वो mains एग्जाम के online form के साथ qualifying degree लगाएंगे।
आपको बताना चाहेंगे कि ग्रेजुएशन में आपके 55% अंक आने चाहिए.

Is SDM Group A or B?

Group A

Can SDM become DM?

‘YES’ SDM do get promote.

एसडीएम बनने के लिए कितना हाइट चाहिए?

कम से कम 5 फीट 6 इंच होनी चाहिए।

जिले में एसडीएम कितने होते हैं?

यह निर्भर करता है,जिला पर जितना बड़ा आपका जिला,उतना तहसील होगे| एक जिले में जितनी तहसील होंगी उतने ही SDM होंगे।


उम्मीद करता हूँ की आपको इस लेख के जरिये SDM Kaise Bane के बारे में आपको बहुत कुछ समझ आया होगा और आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपको फिर कोई प्रश्न है तो आप बिलकुल कमेंट में हमसे पूछ सकते है या हमे कांटेक्ट भी कर सकते है। और आप सभी का धन्यवाद अपना कीमती समय हमे देने के लिए।

नमस्कार दोस्तों, मैं सौरभ कुमार, एक Professional Blogger हूँ और इस ब्लॉग का Founder, Author हूँ. इस ब्लॉग पर मैं नियमित रूप से उपयोगी नईं-नईं जानकारी शेयर करता रहता हूँ।

Leave a Comment